ऑनलाइन निवेश

शेयर मार्केट में सेंसेक्स क्या होता है?

शेयर मार्केट में सेंसेक्स क्या होता है?
बाजार खुलने के 15 मिनट के बाद सेंसेक्स और निफ्टी की कैसी है चाल
9 बजकर 30 मिनट पर सेंसेक्स और निफ्टी हरे निशान में नजर आ रहे हैं. निफ्टी 4 अंक चढ़कर 17820 पर नजर आ रहा है और सेंसेक्स 18 अंक ऊपर आकर 59738 पर कारोबार कर रहा है. निफ्टी ने एक बार फिर 17800 का स्तर पार कर लिया है.

Sensex Meaning In Hindi

बाजार समाचार

शेयर मार्केट में हरियाली सभी को पसंद है और मार्केट का टूटना बहुत लोगों को नापसंद। जो लोग गिरते मार्केट में सही mutual fund या शेयर को चुनते हैं असली बाजीगर वही होते हैं। जानिए आप कैसे अच्छी कमाई कर सकते हैं?

अगले हफ्ते जारी होने वाले इन आंकड़ो पर शेयर बाजार की दिशा निर्भर करेगी। एक्सपर्ट इसे लेकर अपनी राय दे रहे हैं। इस हफ्ते के आखिरी दिन बाजार में अच्छी उछाल देखने को मिली थी।

इस IPO ने किया मालामाल, पहले ही दिन 49% उछला, जानिए 2022 में आपके पास कहां हैं मौके

साल 2022 में अबतक मेनबोर्ड पर 23 शेयरों की लिस्टिंग हुई है। इनमें से 17 शेयरों यानी करीब 75 फीसदी ने पॉजिटिव रिटर्न दिया है। इनमें निवेशकों की दौलत में 2 गुना या 3 गुना तक इजाफा हुआ है।

जब मार्केट ऊपर चढ़े तो आप चादर तानकर सोइए, लेकिन जब मार्केट गिरना शुरू हो तब आप उठिए और अच्छे-अच्छे शेयर को GTT जैसे फीचर के जरिए पकड़िए।

भारतीय शेयर बाजारों में जोरदार तेजी, सेंसेक्स 800 अंक चढ़कर फिर 61000 के पार, जानिए कहां लगाएं पैसा

पिछले कारोबारी सत्र के दौरान अमेरिका के प्रमुख बाजारों में शामिल NASDAQ पर 7.35 फीसदी का तगड़ा उछाल देखा जा रहा है। यूरोपीय बाजारों में भी शेयर बाजार हरे निशान शेयर मार्केट में सेंसेक्स क्या होता है? पर बंद हुए।

केफिन का स्वामित्व जनरल अटलांटिक द्वरा प्रबंधित कोषों के पास है। इसकी कंपनी में 74.94 प्रतिशत हिस्सेदारी है। पिछले साल कोटक महिंद्रा बैंक ने कंपनी में 9.98 प्रतिशत हिस्सेदारी खरीदी थी।

Weekly Expiry के दिन शेयर बाजार की कमजोर शुरुआत, Sensex 317 अंक टूटा, निफ्टी में भी कमजोरी

शुरुआती कारोबार में बीएसई सेंसेक्स 317.04 अंक टूट कर 60,716.51 अंक पर कारोबार कर रहे है। वहीं, एनएसई निफ्टी में 98.80 अंक की कमजोरी है। निफ्टी 98.80 अंक गिरकर 18,058.20 अंक पर कारोबार शेयर मार्केट में सेंसेक्स क्या होता है? कर रहा है।

बाजार को अब अमेरिका में कल घोषित होने वाली खुदरा महंगाई के आंकड़े से दिशा मिलेगी। अनुमान के आधार पर अक्टूबर में इसके कुछ कम होकर 7.9 प्रतिशत रहने की संभावना है जो सितंबर में 8.2 प्रतिशत थी।

'Sensex'

Stock Market Opening : दुनियाभर के अन्य बाजारों ने भी गुरुवार को गिरावट के संकेत दिए हैं. एसजीएक्स निफ्टी में 67 अंकों की गिरावट देखने को मिली है.

Sensex Opening Bell: निफ्टी पर कोल इंडिया, सिप्ला, आयशर मोटर्स, ग्रासिम इंडस्ट्रीज और अल्ट्राटेक सीमेंट टॉप गेनर्स में रहे. वहीं, नेस्ले इंडिया, हिंडाल्को इंडस्ट्रीज, टेक महिंद्रा, ब्रिटानिया इंडस्ट्रीज और टाटा कंज्यूमर प्रोडक्ट्स आज गिरावट के साथ कारोबार करते दिखे.

Sensex, Nifty today: आज ऑटो, तेल और गैस सहित बैंकिंग सेक्टर में 0.5-1 फीसदी की तेजी देखी गई. वहीं, मिडकैप और स्मॉलकैप इंडेक्स का कारोबार सपाट नोट पर समाप्त हुआ.

Share Market Updates : मंगलवार को सेंसेक्स 158.85 अंक चढ़कर 61,783 पर और निफ्टी 49 अंक की बढ़त के साथ 18,378.15 के लेवल पर खुला. हालांकि, दोनों बेंचमार्क इंडेक्स उतार-चढ़ाव के बाद निचले स्तर पर कारोबार कर रहे थे.

Sensex Meaning in Hindi

एस एंड पी बीएसई सेंसेक्स (एस एंड पी बंबई स्टॉक एक्सचेंज का संवेदी सूचकांक), मुम्बई शेयर बाजार में सूचीबद्ध 30 स्थापित और आर्थिक रूप से मजबूत कंपनियों के एक मुक्त फ्लोट बाजार भारित शेयर बाजार सूचकांक (free-float market-weighted stock market index) है। BSE में से सबसे बड़े और सबसे सक्रिय रूप से कारोबार करने वाले शेयरों में से ऐसी 30 कंपनियों को लिया जाता है जो कि भारतीय अर्थव्यवस्था के विभिन्न औद्योगिक क्षेत्रों का प्रतिनिधित्व करती हैं। तीस शेयरों के इसी इंडेक्स को सेंसेक्स कहते हैं.

1 जनवरी 1986 के बाद से प्रकाशित, BSE Sensex भारत में घरेलू शेयर बाजारों की नाड़ी के रूप में माना जाता है। एस एंड पी बीएसई सेंसेक्स का आधार मूल्य 1 अप्रैल 1979 के दिन से 100 के रूप में लिया और 1978-1979 इसका आधार वर्ष है।

Sensex Meaning in Hindi – कैसे गिनते हैं

जैसे कि Sensex in Hindi में मैनें बताया कि सेंसेक्स free-float market-weighted stock market index है. फ्री फ्लोट का आसान हिंदी में अर्थ होगा तैरने के लिए आजाद. किसी भी कंपनी के बाजार पूंजीकरण Market Capitalization का वह हिस्सा जो बिकने के लिए बाजार में उपलब्ध हो सकता है वह फ्री फ्लोट बाजार पूँजी होगी और उसी के आधार पर सेंसेक्स की गणना की जाती है. आम तौर पर प्रमोटरों का हिस्सा अथवा सरकार का हिस्सा पूँजी में से निकाल दें तो बाकी बची पूँजी बाजार में बिकने के लिए उपलब्ध हो सकती है.

इसे Market Cap या बाजार पूँजी भी कह सकते हैं. इसे कंपनी द्वारा कुल जारी शेयरों की संख्या को प्रति शेयर बाजार भाव से गुना करके प्राप्त किया जा सकता है. यदि एक कंपनी ने दस दस रुपये कीमत के एक लाख शेयर जारी किये हैं तो कंपनी की पूँजी हुई दस लाख रुपये. अब शेयर मार्केट में सेंसेक्स क्या होता है? यदि इस कंपनी के एक शेयर की बाजार में कीमत साठ रु है तो कंपनी की Market Cap या बाजार पूँजी साठ लाख होगी.

दुनिया भर के निवेशकों की नज़र में Sensex

आज जबकि मुंबई स्टॉक एक्स्चेंज और नैशनल स्टॉक एक्स्चेंज की गिनती दुनिया के बड़े शेयर बाज़ारों में होती है तो इनके सूचकांक पर भी दुनिया भर के निवेशकों की नज़र रहती है। जबकि दुनिया भर की अर्थ व्यवस्थाएँ एक दूसरे पर व्यापक असर करतीं हैं इसीलिए दुनिया भर के निवेशक भी सभी बड़ी अर्थ व्यवस्थाओं पर निरंतर नज़र रखते हैं। हमारे देश में भी बड़ी मात्रा में विदेशी निवेश बाज़ारों में आता है।

अब यदि आप ने भी बाज़ार में निवेश किया है और आपके पास अपना एक पोर्टफोलियो है तो आप बाजार पर निरंतर नज़र तो रखते ही होंगे। अब यदि आपके शेयरों की क़ीमत इंडेक्स के अनुपात में अधिक बढ़ी है तो आप जान जाएँगे कि आपके निवेश का प्रदर्शन अच्छा है। इसी प्रकार यदि आपके शेयरों की क़ीमत बाजार के इंडेक्स के अनुपात में कम बढ़ी है तो इसका मतलब आपके निवेश का प्रदर्शन बाजार के अनुपात में कम है। यदि आपका निवेश आपको Sensex के अनुपात में कम रिटर्न दे रहा है तो बेहतर है आप निवेश के लिए स्वयं शेयरों का चुनाव ना करके इंडेक्स में शामिल शेयरों में उनके अनुभार के अनुसार निवेश कर दें।

अन्य इंडेक्स

बाज़ार में मुख्य इंडेक्स Sensex के अलावा स्मॉल कैप इंडेक्स और मिड कैप इंडेक्स भी होते हैं जो कि अपनी श्रेणी के शेयरों का प्रतिनिधित्व करते हैं। इसके अलावा सेक्टर इंडेक्स जैसे फ़ार्मा इंडेक्स या बैंकिंग इंडेक्स भी होते हैं जो कि अपने उद्योग में काम करने वाली कम्पनियों के शेयरों की गति का प्रतिनिधित्व करते हैं।

यह मेरी कोशिश थी Sensex Meaning In Hindi समझाने की. उम्मीद है कि आपको समझ आ गया होगा कि सेंसेक्स क्या होता है और इसे कैसे गिनते हैं. यदि आपको Sensex के बारे में कुछ जानकारी होगी तो शेयर बाजार के काम को समझने में आसानी होगी.

Sensex की शुरुआत कैसे और कहाँ से हुई?

दरअसल Sensex शब्द sansitiv और Index से मिलकर बना है इसका हिंदी में शेयर मार्केट में सेंसेक्स क्या होता है? अर्थ संवेदी सूचि हैै! Sensex की शुरुवात दीपक मोहिनी द्वारा की गयी थी! इसकी स्थापना 1986 में हुई थी!

sansex का आधार वर्ष 1978 -79 को माना जाता है! 2013 में BSE और S&P Dow jones के बीच एक रणनीति हुई थी! जिसके बाद Sansex को S&P को BSC sansex का एक ब्रांड मिल गया!

S&P का मतलब Standard & poors Financial Services LLC होता है!

कितनी कम्पनियों से मिलकर Sensex बना है?शेयर मार्केट में सेंसेक्स क्या होता है?

गौरतलब है कि Sansex सूचि में कुल 30 कंपनियां शीर्ष पर रहती हैं इनको ब्लू चिप कंपनी भी कहा जाता है! स्टॉक मार्केट में अक्सर ब्लू चिप कंपनी का नाम तो आपने सुना ही होगा!

BSE में 5000 से ज्यादा कंपनियां सूचीबद्ध हैं जो BSE को मिलकर एक बड़ा Stock Exchange बनाते हैं! Sensex में कम्पनियों के प्रवाह पूंजीकरण को सूचकांक विभाजक से बांटा जाता है। यह सूचकांक कम्पनियों की तुलना करता है!

उसके बाद ही 30 मुख्य कम्पनियों को सेंसेक्स में स्थान दिया जाता है! शेयर बदलने या आर्थिक बदलाव सूचकांक में होने वाले परिवर्तन के कुछ मुख्य शर्तें होती हैं! जो Blue Chip Companies को पूरी करनी होती है!

यह 30 कम्पनिया अलग अलग सेक्टर से चुनी जाती है! जिन Companies के Shares सबसे ज्यादा बेचे और ख़रीदे जाते है उनको इसमें शामिल किया जाता है!

सेंसेक्स कैसे घटता और बढ़ता है?

सेंसेक्स में उतार चढ़ाव होता रहता है इसका सीधा अर्थ समझिये सेंसेक्स के अंदर सूचीबद्ध कंपनियों की वेल्यू कम ज्यादा होना! कंपनियों में हर दिन का हिसाब रखा जाता है जिससे कंपनियों के शेयर्स का मोल भाव का अनुमान लगाया जा सकता है!

कोई कम्पनी बाजार में नई आयी है तो उसके शेयर के भाव ज्यादा होंगे! इसी तरह कोई company मुश्किलों में है या loss में है तो लोग उसका शेयर्स नहीं ख़रीदेंगे!

इस तरह सेंसेक्स इन कंपनियों का एक ग्राफ बनांता है जिस पर निवेशकों की नजर रहती है ज्यादातर सेंसेक्स को अंकों में दर्शाया जाता है!

संवेदी सूचकांक यानि Sansex का महत्व

प्रायः माना जाता है शेयर बाजार देश के आर्थिक ढाँचे में मुख्य भूमिका निभाते हैं! Sansex दुनिया की वैश्विक पूँजीवाद में भारत की आर्थिक स्थिति का प्रतिनिधित्व करते हैं! सेंसेक्स का मुख्य काम हमें दिन भर की होने वाली शेयर बाजारों में शेयर्स के मोलभाव पहुँचाना!

सेंसेक्स में आने वाली कंपनियों को हर दिन में होने ट्रेड में और वेल्यू में शीर्ष की 150 कंपनियों में अधिक महत्वता दी जाती है। आज के समय में इसका महत्व हमारी जीडीपी का लगभग 40 प्रतिशत है! 1990 के समय सेंसेक्स 1000 के आसपास हुआ करता था!

आज के समय में यह 30000 के पार भी जाता है! जब शेयर बाजार में में निवेश अच्छा होता है तो सेंसेक्स ऊपर की ओर जाता है! जिससे हमारे देश में बाहरी नवेशक पैसा लगते है और रुपया मजबूत होता है!

Stock Market Opening: बाजार में गिरावट, सेंसेक्स 215 अंक टूटकर 59500 के पास फिसला, निफ्टी 17800 के नीचे खुला

By: ABP Live | Updated at : 21 Sep 2022 09:40 AM (IST)

Edited By: Meenakshi

शेयर बाजार (फाइल फोटो)

Stock Market Opening: शेयर बाजार में कल दिखी शानदार तेजी गायब हो गई है और आज भारतीय शेयर बाजार फिर गिरावट के दायरे में फिसल गया है. बैंक निफ्टी में आधे फीसदी का दबाव देखा जा रहा है और प्री-ओपन में बाजार में दिखी गिरावट ओपनिंग में जारी रही. बैंक शेयरों में कमजोरी ने बाजार को नीचे खींचा. अमेरिकी बाजारों में दिखी 1 फीसदी की गिरावट से ग्लोबल बाजार फिसले हैं और भारतीय बाजार भी नीचे आए हैं.

आज कैसे खुला बाजार
आज के बाजार की शुरुआत में बीएसई का 30 शेयरों वाला इंडेक्स सेंसेक्स 215.60 अंक यानी 0.36 फीसदी की गिरावट के साथ 59,504 पर खुला है. इसके साथ ही एनएसई का 50 शेयरों वाला इंडेक्स निफ्टी 49.90 अंक यानी 0.28 फीसदी की गिरावट के साथ 17,766 पर ट्रेडिंग की शुरुआत में देखा जा रहा है.

रेटिंग: 4.17
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 255
उत्तर छोड़ दें

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा| अपेक्षित स्थानों को रेखांकित कर दिया गया है *