एक विदेशी मुद्रा ब्रोकर चुनना

बिटकॉइन का उपयोग क्यूँ किया जाता है

बिटकॉइन का उपयोग क्यूँ किया जाता है

Hi, I am Anup founder of Indo Blogging. In indo blogging, you will find Blogging and youtube tips. I am also sharing some valuable tips related to Social Media Marketing.

What Is Bitcoin Mining: बिटकॉइन माइनिंग क्या है और ये कैसे काम करता है

क्रिप्टोकरेंसी की दुनिया हर दिन छलांग के साथ बढ़ रही है। मुद्रित होने वाली नियमित मुद्राओं के विपरीत, ये डिजिटल संपत्ति, बिटकॉइन सहित - दुनिया की सबसे बड़ी और सबसे पुरानी क्रिप्टोकरेंसी - का खनन(माइन)किया जाता है। यह एक विशाल कंप्यूटिंग सिस्टम, बिजली और महंगे सॉफ़्टवेयर का उपयोग करके क्रिप्टोग्राफ़िक समीकरणों को हल करके एक क्रिप्टोकरेंसी प्राप्त करने की प्रक्रिया है। इसलिए, यदि आप क्रिप्टोक्यूरेंसी और बिटकॉइन माइनिंग के बारे में अधिक जानना चाहते हैं, तो आप यहां जान सकते है-

बिटकॉइन माइनिंग क्या है?

बिटकॉइन माइनिंग एक अत्यधिक जटिल कंप्यूटिंग प्रक्रिया है जो एक सुरक्षित क्रिप्टोग्राफिक सिस्टम बनाने के लिए जटिल कंप्यूटर कोड का उपयोग करती है। सरकारों और जासूसों द्वारा उपयोग किए जाने वाले सिक्रेट कोड के समान, माइनिंग के लिए जिस क्रिप्टोग्राफी का इस्तेमाल किया जाता है उससे बिटकॉइन जनरेट होती है।बिटकॉइन लेनदेन की सुविधा प्रदान करती है, और क्रिप्टोकुरेंसी के संपत्ति स्वामित्व को ट्रैक करती है। बिटकॉइन माइनिंग बिटकॉइन डेटाबेस को सपोर्ट करता है, जिसे ब्लॉकचेन कहा जाता है।

बिटकॉइन खनिक(माइनर) लेनदेन से संबंधित एल्गोरिदम को हल करने के लिए सॉफ्टवेयर का उपयोग करते हैं जो बिटकॉइन लेनदेन की जांच करते हैं। बदले में, खनिकों को प्रति ब्लॉक पर बिटकॉइन की एक निश्चित संख्या से सम्मानित किया जाता है। यह उन्हें लेन-देन से संबंधित एल्गोरिदम को हल करने के लिए प्रेरित करता है, जो ओवरऑल सिस्टम को सपोर्ट करता है।

यदि कोई खनिक(माइनर) सफलतापूर्वक ब्लॉकचैन में ब्लॉक जोड़ने में सक्षम है, तो उन्हें इनाम के रूप में 6.25 बिटकॉइन का उपयोग क्यूँ किया जाता है बिटकॉइन प्राप्त होंगे। इनाम की राशि लगभग हर चार साल या हर 210,000 ब्लॉक में आधी कर दी जाती है। नवंबर 2021 तक, बिटकॉइन का कारोबार लगभग $66,000 पर हुआ, जिससे 6.25 बिटकॉइन की कीमत $400,000 से अधिक हो गई।

बिटकॉइन माइनिंग कैसे काम करता है?

आपको बता दें कि बिटकॉइन माइनिंग को कई मायनों में सोने की माइनिंग के समान बनाया गया है। यह "डिजिटल माइनिंग" एक कंप्यूटर प्रक्रिया है जो बिटकॉइन लेनदेन और स्वामित्व को ट्रैक करने के अलावा, नया बिटकॉइन बनाता है। बिटकॉइन माइनिंग और गोल्ड माइनिंग दोनों ऊर्जा गहन हैं, और दोनों में एक सुंदर मौद्रिक इनाम उत्पन्न करने की क्षमता है।

  • बिटकॉइन माइनर को उनका ट्रांजैक्शन शुल्क और नव निर्मित डिजिटल मुद्रा के साथ भुगतान किया जाता है।
  • बिटकॉइन माइनिंग नए बिटकॉइन ट्रांजैक्शन को वेरिफ़ाई और रिकॉर्ड करने की प्रक्रिया है।
  • कई बिटकॉइन माइनर विशेष माइनिंग हार्डवेयर का उपयोग करते हैं और माइनिंग पूल में भाग लेते हैं।
  • क्रिप्टोकरेंसी माइनिंग अत्यधिक ऊर्जा गहन हो सकता है, जिसके लिए लाभदायक होने के लिए कम लागत वाले ऊर्जा स्रोत तक पहुंच की आवश्यकता होती है।

बिटकॉइन माइन करने के दो मुख्य कारण हैं। पहला कारण है बिटकॉइन माइनिंग से मुनाफा कमाना, जो सही परिस्थितियों में संभव है। दूसरा कारण यह जानने के लिए है कि क्रिप्टोकरेंसी कैसे काम करती है और बिटकॉइन नेटवर्क के चल रहे काम का किस तरह सपोर्ट करती है। आइए बिटकॉइन को माइन करने के इन कारणों में से प्रत्येक पर एक नज़र डालें:

लाभ के लिए बिटकॉइन माइनिंग-

यदि आप अकेले बिटकॉइन माइनिंग में रुचि रखते हैं,तो आपको बता दूं कि इसे सोलो माइनिंगके रूप में जाना जाता है, और लाभ अर्जित करना चाहते हैं, तो आपको विशेष माइनिंग हार्डवेयर की आवश्यकता पडेगी। ग्राफिक्स प्रोसेसिंग यूनिट (जीपीयू) या एप्लिकेशन विशिष्ट इंटीग्रेटेड सर्किट (एएसआईसी) के साथ माइनिंग सबसे प्रभावी मानी जाती है। हालांकि आपके लैपटॉप या डेस्कटॉप जैसे कंप्यूटर का भी उपयोग किया जा सकता है।

महंगे हार्डवेयर के अलावा, आपको इंटरनेट बैंडविड्थ उपलब्धता और अपनी स्थानीय बिजली लागत पर भी विचार करना होगा। बिटकॉइन माइनिंग में बड़ी मात्रा में बिजली की खपत होती है। लाभ के लिए, आपको अपनी छत पर कम लागत वाली बिजली या शायद सौर पैनलों की आवश्यकता पड़ सकती है। आपको एक इंटरनेट सेवा प्रदाता की भी आवश्यकता होगी।

बिटकॉइन माइनिंग में फन के साथ-साथ एजुकेशन भी-

यदि आप कंप्यूटर के साथ छेड़छाड़ करना और उभरती हुई तकनीकों के बारे में सीखना पसंद करते हैं, तो आप पैसे कमाने के बावजूद भी बिटकॉइन को माइन करना चाह सकते हैं। अपना खुद का बिटकॉइन माइनिंग बिटकॉइन का उपयोग क्यूँ किया जाता है कॉन्फ़िगरेशन सेट करना आपको अपने कंप्यूटर के आंतरिक कामकाज के साथ-साथ बिटकॉइन नेटवर्क के बारे में भी सिखा सकता है।

क्या बिटकॉइन माइनिंग लाभदायक है?

निर्भर करता है कि भले ही बिटकॉइन खनिक सफल हों, यह स्पष्ट नहीं है कि उपकरणों की उच्च अग्रिम लागत और चल रही बिजली की लागत के कारण उनके प्रयास लाभदायक होंगे। कांग्रेसनल रिसर्च सर्विस की 2019 की रिपोर्ट के अनुसार, एक ASIC के लिए बिजली आधे मिलियन PlayStation 3 उपकरणों के समान बिजली का उपयोग कर सकती है।

बिटकॉइन माइनिंग कैसे शुरू करें-

बिटकॉइन माइनिंग शुरू करने के लिए निम्न की आवश्यकता होती है-

वॉलेट: वॉलेट में आपके द्वारा कमाए गए बिटकॉइन स्टोर किये जाते है। वॉलेट एक प्रकार का एन्क्रिप्टेड ऑनलाइन खाता है जो आपको बिटकॉइन या अन्य क्रिप्टोकरेंसी को स्टोर, ट्रांसफर और स्वीकार करने की अनुमति देता है। Coinbase, Trezor और Exodus जैसी कंपनियाँ सभी क्रिप्टोकरेंसी के लिए वॉलेट विकल्प प्रदान करती हैं।

माइनिंग सॉफ्टवेयर: माइनिंग सॉफ्टवेयर के कई अलग-अलग कंपनियों का हो सकता है। बिटकॉइन का उपयोग क्यूँ किया जाता है बिटकॉइन का उपयोग क्यूँ किया जाता है जिनमें से कई विंडोज और मैक कंप्यूटर के लिए डाउनलोड करने के लिए फ्री हो सकते हैं। जब एक बार सॉफ़्टवेयर आवश्यक हार्डवेयर से कनेक्ट हो जाएगा तब आप बिटकॉइन को माइन बिटकॉइन का उपयोग क्यूँ किया जाता है करने में सक्षम होंगे।

कंप्यूटर उपकरण: बिटकॉइन माइनिंग के सबसे अधिक लागत वाला पहलू हार्डवेयर है। बिटकॉइन को सफलतापूर्वक माइन करने के लिए आपको एक शक्तिशाली कंप्यूटर की आवश्यकता होगी जो बहुत अधिक मात्रा में बिजली का उपयोग करता हो। हार्डवेयर की लागत लगभग $ 10,000 या उससे अधिक हो सकती है।

बिटकॉइन माइनिंग के जोखिम-

कीमतो में अस्थिरता-

बिटकॉइन की कीमत 2009 में पेश होने के बाद से व्यापक रूप से भिन्न है। पिछले एक साल में, बिटकॉइन ने $ 10,000 से कम और लगभग $ 67,000 का कारोबार किया है। इस तरह की अस्थिरता से माइनर के लिए यह जानना मुश्किल हो जाता है कि क्या उनका इनाम माइनिंग की उच्च लागत से अधिक होगा।

रेग्युलेशन-

बहुत कम सरकारों ने बिटकॉइन जैसी क्रिप्टोकाउंक्शंस को अपनाया है, और कई लोगों को उन्हें संदेह से देखने की संभावना है क्योंकि मुद्राएं सरकारी नियंत्रण से बाहर काम करती हैं।

वित्तीय जोखिमों और सट्टा व्यापार में वृद्धि का हवाला देते हुए, हमेशा जोखिम होता है कि बिटकॉइन का उपयोग क्यूँ किया जाता है सरकारें बिटकॉइन या क्रिप्टोकरेंसी के खनन को पूरी तरह से प्रतिबंधित कर सकती हैं, जैसा कि चीन ने इस साल की शुरुआत में किया था।

क्या होता है बिटकॉइन? इसकी शरुआत कैसे हुई? पूरे बैंकिंग सिस्टम को हिला कर रख देने वाले बिटकॉइन के बारे में सब कुछ जानिए

क्या होता है बिटकॉइन? इसकी शरुआत कैसे हुई? पूरे बैंकिंग सिस्टम को हिला कर रख देने वाले बिटकॉइन के बारे में सब कुछ जानिए

आज इंटरनेट पर कई वेबसाइट्स, काई सारे ऐसे एप्स मौजूद हैं जो बिटकॉइन खरीदते और बेचते हैं. साधारण भाषा में कहें, तो कई ऑनलाइन मार्केट प्लेस से बिटकॉइन खरीदे या बेचे जा सकते हैं.

जब से बिटकॉइन का जन्म हुआ है तब से ही बिटकॉइन की खूब चर्चा हो रही है. शुरुआत में तो ये हालात थे कि चारों तरफ हर किसी के मुंह से बिटकॉइन ही बिटकॉइन सुनाई देता था. कई देशों की सरकारों के विरोध के बाद इसकी बातें बहुत कम हो गई थीं लेकिन अब एक बार फिर से बिटकॉइन की चर्चा ज़ोरों पर है और इसके पीछे का कारण है बिटकॉइन की कीमत। दरअसल, बिटकॉइन की कीमत बढ़कर रिकॉर्ड स्तर पर पहुंच गई है. जानकारी हो कि मौजूदा वक्त में एक बिटकॉइन की कीमत करीब 26 लाख रुपए हो चुकी है लगातार बढ़ती ही जा रही है यही वजह है कि निवेशक इन दिनों बिटकॉइन में भर-भर के निवेश कर रहे हैं.

बिटकॉइन क्या होता है?

Bitcoin एक वर्चुअल करेंसी है, Virtual का हिंदी अर्थ होता है- वास्तविक या आभासी. साधारण शब्दों बिटकॉइन का उपयोग क्यूँ किया जाता है में कहें तो आपके पास पैसा तो होता है आप इसका जब मर्ज़ी उपयोग भी कर सकते हैं लेकिन इसे हाथ में लेकर गिन नहीं सकते. इसिलए इसे क्रिप्टोकरेंसी भी कहा जाता बिटकॉइन का उपयोग क्यूँ किया जाता है है. बिटकॉइन का जन्म साल 2009 में हुआ था, सातोशी नाकामोतो नामक व्यक्ति ने इसे बनाया गया था. आज मात्र 11 सालों में जिस बिटकॉइन की कीमत 26 लाख रूपए हो चुकी है उस वक्त यानी 2009 में इसकी कीमत 5-6 रुपए प्रति बिटकॉइन थी. जैसा कि हम बता चुके हैं आम करेंसी की तरह बिटकॉइन को देखा या छुआ नहीं जा सकता लेकिन इससे ऑनलाइन खरीद-फरोख्त हो सकती है. इससे कोई भी सामान खरीदा जा सकता है, उधारी चुकाई जा सकती है. बिटकॉइन की सबसे बड़ी खासियत तो ये है कि इंटरनेशनल लेवल पर इससे पेमेंट करना फायदेमंद है क्योंकि अभी तक बिटकॉइन पर किसी भी देश या किसी संस्था का रेगुलेशन नहीं है. बिटकॉइन की बढ़ती कीमत के चलते इन दिनों लोग बिटकॉइन में खूब निवेश कर रहे हैं. कह लें, कि इन दिनों बिटकॉइन वर्ल्ड टूर पर निकला है तो कुछ गलत नहीं होगा.

बिटकॉइन को खरीदा या बेचा कैसे जा सकता है?

कई तरह के एप्स, वेबसाइट्स बिटकॉइन का उपयोग क्यूँ किया जाता है बिटकॉइन का उपयोग क्यूँ किया जाता है मौजूद हैं जहां पर बिटकॉइन खरीदे या बेचे जा सकते हैं. कई ऑनलाइन मार्किट प्लेस पर बिटकॉइन की खरीद व बिक्री होती है. साधारण भाषा में समझें तो जैसे आप डिजिटल तरीके से, इंटरनेट बैंकिंग का उपयोग करके किसी को पैसे भेजते हैं ठीक उसी तरह बिटकॉइन का भी लेन-देन किया जा सकता है. इन वेबसाइट्स, एप्स या कह लें ऑनलाइन मार्केट प्लेस पर यूजर को ट्रेडिंग के लिए अपना अकाउंट बनाना होता है. इसी अकाउंट के ज़रिए बिटकॉइन की ट्रेडिंग आसानी से की जा सकती है.

'बिटकॉइन माइनिंग' आपने बहुत सुना होगा, क्या होता है?

दरअसल, बिटकॉइन को कंप्यूटर पर ही गणित के जटिल सवाल हल करके भी हासिल किया जा सकता है. मतलब यूजर को अपने पैसे इन्वेस्ट करने की ज़रुरत नहीं है. गणित के जटिल सवाल हल कर बिटकॉइन पाने के तरीके को बिटकॉइन माइनिंग (Bitcoin mining) कहा जाता है. बिटकॉइन शुरुआत में भी इसी तर्ज पर बनाया गया था. अभी भी दुनियाभर में बहुत से लोग बिटकॉइन माइनिंग कर इस क्रिप्टोकरेंसी को प्राप्त कर रहे हैं और अमीर बन रहे हैं.

बिटकॉइन वॉलेट भी होता है!

Bitcoin एक डिजिटल वॉलेट में स्टोर रहते हैं. यूजर का जो ट्रेडिंग अकॉउंट होता है उसी के भीतर दिखाई हैं. इस डिजिटल वॉलेट को ही बिटकॉइन वॉलेट कहा जाता है. यह डिजिटल या बिटकॉइन वॉलेट यूजर के कंप्यूटर पर या फिर ऑनलाइन क्लाउड पर हो सकता है. यह एक तरह का वर्चुअल बैंक अकाउंट हैं. जिसे एक खास पासवर्ड से ही खोला जा सकता है. अगर किसी यूजर ने इस डिजिटल वॉलेट का पासवर्ड खो दिया या भूल गया तो फिर उसके बिटकॉइन भी खो जाएंगे और फिर कभी वापस नहीं आएंगे.

हाल ही एक ऐसा ही मामला सामने आया है, जहां एक व्यक्ति के बिटकॉइन वॉलेट में 7000 बिटकॉइन हैं, जिनकी कीमत करोड़ों में है. लेकिन वह अपने बिटकॉइन वॉलेट का पासवर्ड भूल गया है. तो अब वह व्यक्ति करोड़पति होते हुए भी ना के बराबर है. एक अध्ययन के मुताबिक कुल बिटकॉइन के 25 फीसदी तो इन्हीं सब कारणों के चलते उपयोगहीन हैं.

बिटकॉइन के खतरों से भी रूबरू हो लीजिए-

Bitcoin की खासियत ही इसकी सबसे बड़ी कमजोरी है. इसकी खासियत ये है कि इसके ऑनलाइन लेनदेन का कोई रिकॉर्ड नहीं होता है. जिसके चलते बिटकॉइन खरीदने या बेचने वाले व्यक्ति को ढूंढ पाना लगभग नामुमकिन है. यही वजह है कि कई देशों में गैरकानूनी कामों जैसे ड्रग्स आदि खरीदने के लिए बिटकॉइन का भरपूर इस्तेमाल किया जा रहा है. आशंका है कि बिटकॉइन सुरक्षा के लिए भी खतरा हो सकता है. यही वजह है कि दुनिया के अधिकतर देशों की सरकारें इससे खौफज़द हैं.

पूरा बैंकिंग सिस्टम क्यों है परेशान?

इंटरनेट और तकनीक के बढ़ते प्रचलन के चलते बिटकॉइन के इस्तेमाल में भी खासी बढ़ोत्तरी हुई है. दुनियाभर के निवेशक क्रिप्टोकरेंसी में दबा कर निवेश कर रहे हैं. हालांकि मौजूदा वक्त में बिटकॉइन की तर्ज पर कई अन्य तरह की वर्चुअल करेंसी भी अस्तित्व में आ चुकी हैं. लेकिन बिटकॉइन इन सभी का शहंशाह है. दुनियाभर की कुल क्रिप्टो क्रिप्टोकरेंसी में 69 फीसदी हिस्सेदारी अकेले बिटकॉइन की ही है.

इस करेंसी का नियमन (रेगुलेशन) ना होने के कारण दुनियाभर के बैंक इसे लेकर चिंतित हैं. क्योंकि क्रिप्टोकरेंसी के लेनदेन में किसी भी थर्ड पार्टी जैसे बैंक आदि की जरूरत बिलकुल भी नहीं होती. ऐसे में कर चोरी की आशंका भयंकर रूप से है. दुनिया का कोई भी देश बिटकॉइन को करेंसी के तौर पर मान्यता नहीं दे पा रहा है, ऐसे में बिटकॉइन से किसी भी देश की अर्थव्यवस्था के लिए खतरा पैदा हो सकता है. अब आप समझ लीजिए काले धन का सबसे बड़ा केंद्र स्विस बैंक तक बिटकॉइन से परेशान है.

पीयर-टू-पीयर इलेक्ट्रॉनिक कैश

बिटकॉइन कैश ने दुनिया में लाजवाब पैसा लाया है। व्यापारी और उपयोगकर्ताओं को कम शुल्क और विश्वसनीय पुष्टि के साथ सशक्त हैं। भविष्य में अप्रतिबंधित वृद्धि, वैश्विक अपनाने, अनुमतिहीन नवाचार और विकेन्द्रीकृत विकास के साथ चमकती है

ब्लॉक 478558 के रूप में सभी बिटकॉइन धारक भी बिटकॉइन कैश के मालिक हैं। हम सभी को पूरी दुनिया के लिए सुलभ ध्वनि पैसे बनाने में आगे बढ़ने के लिए बिटकॉइन कैश समुदाय में शामिल होने के लिए सभी का स्वागत है।

बिटकॉइन कैश का उपयोग क्यों करें?

दुनिया में कहीं भी पैसा भेजें, लगभग मुफ्त में

बिटकॉइन कैश के साथ, आप दुनिया में कहीं भी, 24 घंटे एक दिन, 365 दिन एक वर्ष में किसी को भी पैसा भेज सकते हैं। इंटरनेट की तरह ही, नेटवर्क हमेशा चालू रहता है। कोई लेनदेन बहुत बड़ा या बहुत छोटा नहीं है। और आपको किसी की अनुमति या अनुमोदन की आवश्यकता नहीं है।

आपका अपना बैंक हो और आपके पैसे पर पूरा नियंत्रण हो

साइप्रस में और ग्रीस में लगभग खाताधारकों से पूंजी जब्त करना ("बेल-इन"), यह दर्शाता है कि बैंक जमा केवल उतने ही सुरक्षित हैं जितना कि राजनीतिक नेता तय करते हैं। यहां तक कि सबसे अच्छी परिस्थितियों में, बैंक गलतियां कर सकते हैं, फंड होल्ड कर सकते बिटकॉइन का उपयोग क्यूँ किया जाता है हैं, खाते फ्रीज कर सकते हैं और अन्यथा आपको अपने स्वयं के पैसे तक पहुंचने से रोक सकते हैं।

बैंक आपके लेनदेन को अवरुद्ध करने, आपसे शुल्क वसूलने, या बिना किसी चेतावनी के अपना खाता बंद करने का निर्णय भी ले सकते हैं। बिटकॉइन कैश आपको अपने फंड पर पूर्ण, संप्रभु नियंत्रण प्रदान करता है, जिसे आप दुनिया में कहीं से भी एक्सेस कर सकते हैं।

एक दुर्लभ डिजिटल मुद्रा जिसकी एक ज्ञात, निश्चित आपूर्ति है।

बिटकॉइन कैश प्रोटोकॉल सुनिश्चित करता है कि अस्तित्व में 2.1 करोड़ से अधिक सिक्के कभी नहीं होंगे। सरकारें लगातार हवा में से पैसा छाप सकती हैं, जिससे महँगाई बड़ती है और लोगों की बचत का अवमूल्यन होता है। बिटकॉइन कैश की एक निश्चित आपूर्ति है और इसलिए यह ठोस धन का प्रतिनिधित्व करता है।

अपनी गोपनीयता बढ़ाएँ और गुमनाम रूप से काम करें

बिटकॉइन कैश बैंक ट्रान्सफर और क्रेडिट कार्ड जैसी पारंपरिक भुगतान प्रणालियों की तुलना में अधिक गोपनीयता और गुमनामी प्रदान करता है, क्योंकि यह जानना आम तौर पर असंभव है कि बिटकॉइन पते को कौन नियंत्रित करता है।

बिटकॉइन कैश की गोपनीयता के विभिन्न स्तर इसके उपयोगों पर निर्भर करते है। गोपनीयता उद्देश्यों के लिए बी. सी. ऐच का उपयोग करने से पहले अपने आप को अच्छी तरह से शिक्षित करना महत्वपूर्ण है।

विशेष छूट का आनंद लें

कई व्यापारी बिटकॉइन कैश में भुगतान करने के लिए छूट प्रदान करते हैं, क्योंकि यह क्रेडिट कार्ड शुल्क को समाप्त करता है और इस नए भुगतान प्रणाली को अपनाने में मदद करता है।

एक ब्लॉकचेन पर टोकन का भंडारण और प्रबंधन, पारंपरिक रूपों में संपत्ति के लेखांकन और व्यापार की तुलना में, अधिक पारदर्शिता और अखंडता प्रदान करता है। बिटकॉइन कैश टोकन प्रोटोकॉल का समर्थन करता है जो विभिन्न प्रकार की परियोजनाओं को योग्य करता है, और इस पर अपने स्वयं के टोकन समर्थित प्रोजेक्ट बनाना आसान है।

दुनिया भर में स्वतंत्रता का समर्थन करें

बिटकॉइन कैश एक अनुमति रहित, ओपन नेटवर्क है। यह आपको दखल के बिना अपने साथी जन के साथ जुड़ने की क्षमता देता है। यह विकेंद्रीकृत, स्वैच्छिक और गैर-आक्रामक है। जैसे-जैसे उपयोग बढ़ता है, पुरानी प्रतिष्ठान संरचनाएं नष्ट होंगी, जबकि नए विचार खिलेंगे। यह दुनिया की अब तक की सबसे बड़ी शांतिपूर्ण क्रांति में प्रवेश करने में मदद कर सकता है।

व्यापारियों के लिए लाभ

बिटकॉइन कैश लेनदेन के लिए नेटवर्क शुल्क एक पैसा डॅलर से भी कम है। अगर आप अपने बिटकॉइन कैश को फिएट करेंसी, जैसे अमेरिकी डॉलर, में बदलना चाहते हैं, तो आप ऐसा मर्चेंट प्रोसेसर के ज़रिए कर सकते हैं, जिसकि फीस भी क्रेडिट कार्ड प्रोसेसिंग से बहुत कम है।

क्रेडिट कार्ड के विपरीत, कभी भी कोई स्वचालित निरस्तता, रिफंड, शुल्क-वापसी या अन्य अप्रत्याशित शुल्क नहीं होते हैं। व्यापारी को बिना किसी लागत के धोखाधड़ी निरोधक प्रणाली बनायी गयी है।

संरक्षक की बढ़ती संख्या बिटकॉइन कैश को पसंदीदा भुगतान विधि के रूप में चुन रही है। वे व्यापारियों का पक्ष लेते हैं जो इस भुगतान विकल्प की पेशकश करते हैं और सक्रिय रूप से उन्हें तलाशते हैं। संपर्क करें

फ्री मार्केटिंग और प्रेस

बिटकॉइन कैश को स्वीकार करके, व्यापारी वेबसाइट और ऐप निर्देशिकाओं में मुफ्त लिस्टिंग प्राप्त कर सकते हैं, और अधिक ग्राहक प्राप्त कर सकते हैं। वे इस नई प्रवृत्ति का लाभ उठा कर अपने व्यवसाय के लिए प्रेस उत्पन्न कर सकते हैं

बिटकॉइन कैश का इतिहास

अक्टूबर 2008 में, सातोशी नाकामोटो ने प्रसिद्ध श्वेतपत्र शीर्षक से प्रकाशित किया बिटकॉइन: एक पीयर टू पीयर इलेक्ट्रॉनिक कैश सिस्टम । 2009 में, उन्होंने पहला बिटकॉइन सॉफ़्टवेयर जारी किया, जो नेटवर्क को संचालित करता था, और यह कम शुल्क, और तेज़, विश्वसनीय लेनदेन के साथ कई वर्षों तक सुचारू रूप से संचालित होता था।

दुर्भाग्य से, 2016 से 2017 तक, बिटकॉइन तेजी से अविश्वसनीय और महंगा हो गया। ऐसा इसलिए था क्योंकि समुदाय नेटवर्क क्षमता बढ़ाने पर आम सहमति नहीं बना सका। कुछ डेवलपर्स को सतोशी की योजना के बारे में समझ और सहमति नहीं थी। इसके बजाय, उन्होंने पसंद किया कि बिटकॉइन एक समझौता पत्र बन जाए।

2017 तक, बिटकॉइन का प्रभाव 95% से घटकर 40% हो गया था, जो प्रयोज्य समस्याओं के प्रत्यक्ष परिणाम था। सौभाग्य से, बिटकॉइन समुदाय का एक बड़ा हिस्सा, जिसमें डेवलपर्स, निवेशक, उपयोगकर्ता और व्यवसाय शामिल हैं, अभी भी बिटकॉइन की मूल दृष्टि में विश्वास करते हैं - एक कम शुल्क, सहकर्मी से सहकर्मी इलेक्ट्रॉनिक नकदी प्रणाली जो विश्व के सभी लोगों द्वारा उपयोग की जा सकती है।

1 अगस्त 2017 को, हमने अधिकतम ब्लॉक आकार को बढ़ाने का तार्किक कदम उठाया, और बिटकॉइन कैश का जन्म हुआ। उस समय (ब्लॉक 478558) बिटकॉइन रखने वाला कोई भी व्यक्ति बिटकॉइन कैश (BCH) का मालिक बन गया। नेटवर्क अब बड़े पैमाने पर भविष्य में वृद्धि की अनुमति देने के लिए चल रहे अनुसंधान के साथ 32 एमबी ब्लॉक तक का समर्थन करता है।

विकेंद्रीकृत विकास

सॉफ्टवेयर कार्यान्वयन प्रदान करने वाले डेवलपर्स की कई स्वतंत्र टीमों के साथ, भविष्य सुरक्षित है। बिटकॉइन कैश प्रोटोकॉल विकास पर राजनीतिक और सामाजिक हमलों के लिए प्रतिरोधी है। कोई एक समूह या परियोजना इसे नियंत्रित नहीं कर सकती है। एकाधिक कार्यान्वयन भी यह सुनिश्चित करने के लिए अतिरेक प्रदान करते हैं कि नेटवर्क 100% अपटाइम बनाए रखता है। संपर्क करें

बिटकॉइन-एमएल मेलिंग सूची उन बदलावों के प्रस्ताव बनाने के लिए एक अच्छा स्थान है, जिनमें आवश्यकता होती है विकास टीमों में समन्वय। बिटकॉइन कैश प्रोटोकॉल में बदलाव को लागू करने के इच्छुक लोगों के लिए, शुरुआती सहकर्मी की समीक्षा करने और अन्य डेवलपर्स के साथ सहयोगात्मक रूप से जुड़ने की सिफारिश की जाती है।

बिटकॉइन का उपयोग क्यूँ किया जाता है

Follow me on twittter

JOIN MY TELEGRAM GROUP

Telegram channel

JOIN ME ON PINTEREST

Pinterest

JOIN OUR VIP FACEBOOK PAGE

Facebook

JOIN ME ON INSTAGRAM

INSTAGRAM

This Website is DMCA Protected

DMCA.com Protection Status

पृष्ठ

श्रेणियां

    (37) (70) (33) (83) (49)

indo Blogging


Hi, I am Anup founder of Indo Blogging. In indo blogging, you will find Blogging and youtube tips. I am also sharing some valuable tips related to Social Media Marketing.

रेटिंग: 4.71
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 320
उत्तर छोड़ दें

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा| अपेक्षित स्थानों को रेखांकित कर दिया गया है *