सर्वश्रेष्ठ 60 सेकंड की ट्रेडिंग रणनीतियाँ

बिटकॉइन के नुकसान

बिटकॉइन के नुकसान
युवाओं में ज्यादा रुझान

Image Bitcoin

क्रिप्टोकरेंसी का मायाजाल, लोग हो रहे रातों रात कंगाल: 75 प्रतिशत निवेशकों को नुकसान ही नुकसान

दुनिया भर में बिटकॉइन का वर्चस्व बढ़ रहा है। अब दुनिया की जानी मानी इलेक्ट्रिक कंपनी टेस्ला ने भी कह दिया है कि वह जल्द ही बिटकॉइन के नुकसान बिटकॉइन को अपने वाहनों के लिए भुगतान के रूप में स्वीकार करेगी। साथ ही उबर कंपनी भी बिटकॉइन की तरफ बढ रही है। बिटकॉइन वर्चुअल करेंसी है। इसकी शुरुआत साल 2009 में हुई थी, जो कि अब धीरे-धीरे इतनी लोकप्रिय हो गई है कि इसकी एक बिटकॉइन की कीमत लाखों रुपये में के बराबर पहुंच गई है। इसे क्रिप्टोकरेंसी भी कहा जाता है, क्योंकि भुगतान के लिए यह क्रिप्टोग्राफी का इस्तेमाल करता है। यानी, अब इस करेंसी को भविष्य की करेंसी भी कह सकते हैं।

बिटकॉइन में निवेश करने वाले लगभग 75 प्रतिशत लोगों को नुकसान उठाना पड़ा है. एक अंतरराष्ट्रीय संस्था ने 95 देशों में सात साल में हुए निवेश के बाद यह नतीजा निकाला है.

Bitcoin Price Prediction 2021 in Hindi: क्रिप्टो करेंसी की कीमतों में उछाल, बिटकॉइन में भी आई तेजी

Bitcoin

नई दिल्ली। सबसे लोकप्रिय क्रिप्टोकरेंसी कही जाने वाली बिटकॉइन में आई मंदी के बाद अब इसमें तेजी दर्ज की जा रही है। दरअसल आज फिर बिटकॉइन के दामों में 5 फीसदी की बढ़त आई है। जिसके बाद यह अनुमान लगाया जा रहा है कि आने वाले समय में यह बढ़त जारी रहेगी। हालांकि चीन के सख्त रुख अपनाए जाने के बाद से क्रिप्टोबाजार में उथल-पुथल का दौर जारी है। वहीं बिटकॉइन की कीमतों में भी मंदी देखी जा रही थी। लेकिन अब अंदाजा यह है कि आने वाले समय में बिटकॉइन के यह दाम फिर से बढेंगे।

Bitcoin

बिटकॉइन के नुकसान

क्रिप्टोकरेंसी में तेजी से गिरावट जारी, बिटकॉइन निवेशकों को तगड़ा नुकसान

पिछले कुछ महीनों में वर्चुअल करेंसी यानी क्रिप्टोकरेंसी में तेजी से गिरावट आई है।

क्रिप्टोकरेंसी में तेजी से गिरावट जारी, बिटकॉइन निवेशकों को तगड़ा नुकसान

नई दिल्ली। पिछले कुछ महीनों में वर्चुअल करेंसी यानी क्रिप्टोकरेंसी में तेजी से गिरावट आई है। दुनिया की सबसे बिटकॉइन के नुकसान बड़ी क्रिप्टोकरेंसी बिटकॉइन शुक्रवार को करीब 7.5% गिरकर 38,592 पर आ गई। इथेरियम 8.99 प्रतिशत की गिरावट के साथ 2,871 पर था।

डॉलर जनवरी में इसमें 18 फीसदी से ज्यादा की गिरावट आई थी। क्रिप्टोक्यूरेंसी के पूंजीगत मूल्य में गिरावट 2 ट्रिलियन से नीचे गिर गई है। डॉगकॉइन (7.64)। बिनांस (10.11), सोलाना (8.99)। एक्सआरपी (7.88) में भी गिरावट देखी गई।

एलेन मस्क के एक ट्वीट से बिटकॉइन ही नहीं पूरे क्रिप्टो मार्केट को हुआ इतने डॉलर का नुकसान

इलेक्ट्रिक कार निर्माता कंपनी टेस्ला के सीईओ एलन मस्क (Elon Musk) के एक ट्वीट ने गुरुवार को पूरी क्रिप्टोकरेंसी मार्केट (Crupto Market) को हिलाकर रख दिया. उन्होंने कार खरीदने के लिए बिटकॉइन (Bitcoin) को बतौर पेमेंट स्वीकार न करने की बात कही. जिससे बिटकॉइन की बिटकॉइन के नुकसान कीमतों में तेजी ​से गिरावट देखने को मिली. ​महज 2 घंटे में बिटकॉइन के नुकसान इसकी एक यूनिट की कीमतों में 6.71 लाख रुपए की गिरावट दर्ज की गई. मस्क के ट्वीट का असर बिटकॉइन तक ही सीमित नहीं रहा. इससे पूरे क्रिप्टो मार्केट को तगड़ा झटका लगा है. निवेशकों ने अचानक अपने हाथ पीछे खींच लिए जिसके चलते क्रिप्टो मार्केट को 365 ​बिलियन डॉलर का नुकसान हुआ है.

एलेन मस्क के ट्वीट करने से पहले पूरे क्रिप्टोक्यूरेंसी बाजार का मूल्य लगभग 2.43 ट्रिलियन डॉलर था, लेकिन मस्क के नए नियम की घोषणा करते ही मार्केट बिटकॉइन के नुकसान धड़ाम हो गया. यह गिरकर 2.06 ट्रिलियन डॉलर हो गया,. लिहाजा 365.85 बिलियन का नुकसान हुआ. बाद में स्थिति संभलने पर इसका मूल्य लगभग 2.27 ट्रिलियन हो गया. Coinmarketcap.com के आंकड़ों के अनुसार, बिटकॉइन की कीमतों में उस वक्त 11 प्रतिशत, एथेरियम में 8 प्रतिशत), बिनेंस सिक्का 8 प्रतिशत, डॉगक्वाइन 10 प्रतिशत और एक्सआरपी 10 प्रतिशत से नीचे थीं.

टॉप Crypto Currency कौन सी है?

1) Bitcoin (BTC) :-

Bitcoin दुनिया में सबसे पहले क्रीपटोकरंसी के रूप में आयी है। यह सबसे पॉपुलर और सफल Crypto Currency है। जिसे साल 2009 में सतोशी नाकामोटो के द्वारा निर्माण किया गया था। हालाकि इससे पहले भी वर्चुअल करेंसी को लॉन्च करने की कोशिश की गई, लेकिन सफलता नहीं मिली। बिटकॉइन को भी बनाने में काफी कढ़ी मेहनत करनी पड़ी थी लेकिन आज वही बिटकॉइन जिसको पहले कोई नहीं जानता था। शुरू में $5 में एक बिटकॉइन की कीमत थी। आज $64000 के पार चली गई है। यानी कि अगर रुपयों में बात करे तो 1 बिटकॉइन की कीमत आज ₹46 लाख के पार पहुंच गई है। इससे आप इसके इंपॉर्टेंस को समझ सकते है। लेकिन सबसे बढ़ी बिटकॉइन के नुकसान बात यह है कि cryptocurrency में निवेश बहुत सोच समझ के किया जाता है। हर दिन इसकी कीमत में भारी fluctuation होता रहता है।

2.Ethereum (ETH) :-

Bitcoin के जैसे ही Ethereum भी decentralized Crypto बिटकॉइन के नुकसान Currency है। Vitalik Buterin के द्वारा Ethereum Crypto Currency बनाई गई थी। इसके टोकन को Ether के नाम से भी कहा जाता है। इसका plateform यूजर्स को वर्चुअल टोकन बनाने में मददगार साबित होता है। जिसे blockchain-based computing platform कहा जाता है। इसकी मदद से बिटकॉइन के जैसे ही currency के तौर प्रयोग कर सकते हैं। Bitcoin के बाद Etheremum सबसे पॉपुलर Crypto Currency है। आज लगभग Ethereum $4200 कि उचाई तक पहुंच गया है। लेकिन शरुआत में इसकी क़ीमत सिर्फ 800 कि थी।

क्रिप्टो करेंसी के क्या लाभ है? Benefits Of Cryptocurrency

4. Crypto Currency में लेने देन बहुत कड़ी निगरानी और सुरक्षा में होता है। यह सामान्य लेन देन से बिल्कुल भिन्न है।

1. Cryptocurrency में रिवर्स का ऑप्शन नहीं होने के कारण किसी भी ट्रांजैक्शन को वापस नहीं किया जा सकता है। अगर गलत ट्रांजैक्शन हो जाता है तो आप को भारी नुकसान हो सकता है।

3. क्रिप्टो करेंसी किसी भी देश की सरकार या संस्था या किसी मालिक के द्वारा संचालित नहीं की जाती है। यह बहुत बड़ा disadvantage है।

6. क्रिप्टो करेंसी में मार्केट बहुत flexible होती है। इसलिए इसमें इन्वेस्ट करना बहुत ही रिस्की होता है।

7. Cryptocurrency का ड्रग्स सप्लाई, कालाबाजारी इत्यादि जैसे गलत काम के लिए ज्यादा इस्तेमाल किया जाता है।

देश जहां Crypto Currency कानूनन वैध या अवैध है

Crypto Currency को legal कहने वाले देश:-

  • संयुक्त राज्य अमेरिका
  • कनाडा
  • ऑस्ट्रेलिया
  • यूरोपीय संघ
  • यूनाइटेड किंगडम
  • फिनलैंड

Crypto Currency को illegal कहने वाले देश:-

  • रूस
  • चीन
  • बोलीविया, कोलंबिया और इक्वाडोर
  • वियतनाम

भारत में Crypto Currency Legal या Illegal ?

क्या बिटकॉइन इंडिया में बैन है?

दोस्तों इसका सवाल सभी के मन में घूम रहा होगा कि क्या भारत में क्रिप्टो करेंसी कानूनी रूप से legal है या illegal है। इसके लिए हम आपको साल 2018 की एक न्यूज़ बताता हूं जब बिटकॉइन बहुत ही चर्चा में आया था। ऐसे ही भारत में भी बिटकॉइन के बहुत ही चर्चाएं होने लगी थी। इसी को देखते हुए साल 2018 में भारतीय रिजर्व बैंक ने क्रिप्टोकरंसी पर बैन लगा दिया था। प्रतिबंध और आधिकारिक डिजिटल मुद्रा विधेयक, 2019 (Banning of Cryptocurrency and Regulation of Official Digital Currency Bill, 2019) के ड्राफ्ट में क्रिप्टो करेंसी में ट्रेड या निवेश करने वालों के लिए सजा का प्रस्ताव रखा गया था।

ड्राफ्ट में वर्चुअल करेंसी की खरीदारी या बिक्री करने वाले लोग, तैयार करने वाले लोग, वॉलेट में वर्चुअल करेंसी को रखने वाले लोग या क्रिप्टो करेंसी के द्वारा किसी भी तरह की डील करने वाले लोगों को दोषी पाए जाने पर 10 साल जेल की सजा का प्रस्ताव रखा गया था।

रेटिंग: 4.27
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 608
उत्तर छोड़ दें

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा| अपेक्षित स्थानों को रेखांकित कर दिया गया है *