ट्रेडिंग संकेतों

ट्रेंड लाइंस के साथ ट्रेडिंग

ट्रेंड लाइंस के साथ ट्रेडिंग
लखनऊ ब्यूरो
Updated Tue, 27 Oct 2020 01:53 AM IST

CNBC Awaaz Live: Share Market Live Updates | First Trade News | Business &

Share Market Live News: Live Stock Market Updates | Latest Business News | CNBC Awaaz LIVE | July 21 | First Live Trade Updates | Witty | Share Bazaar Business News Live | First trade में कैसा है है Market का हाल, बाजार खुलने के कहां बन रह रह है कमाई का अच्छा मौका. जानें किन Stocks में Intraday में दिख रहा है अच्छी कमाई का मौका रहें First operation में हर छोटी-बड़ी मार्केट की खबर से जागरुक. देखें…

News Highlights: CNBC Awaaz Live: Share Market Live Updates | First Trade News | Business & Finance News | 21 July

News: For more update like this CNBC Awaaz Live: Share Market Live Updates | First Trade News | Business & Finance News | 21 July follow us.
This video is like by 426 peoples.

टोयोटा की नई इनोवा क्रिस्टा लांच: पुरानी से है चौड़ी और लम्बी

दुनिया की प्रमुख वाहन निर्माता कंपनी टोयोटा किर्लोस्कर मोटर ने अपने एमपीवी इनोवा के एक नए एडिशन क्रिस्टा को भारतीय बाजार में लॉन्च कर दिया है। टोयोटा इनोवा को पहली बार 2004 में लांच किया गया.

टोयोटा की नई इनोवा क्रिस्टा लांच: पुरानी से है चौड़ी और लम्बी

दुनिया की प्रमुख वाहन निर्माता कंपनी टोयोटा किर्लोस्कर मोटर ने अपने एमपीवी इनोवा के एक नए एडिशन क्रिस्टा को भारतीय बाजार में लॉन्च कर दिया है। टोयोटा इनोवा को पहली बार 2004 में लांच किया गया था। कंपनी ने कार के बेस वेरिएंट की कीमत 13.8 लाख रुपए (एक्स-शोरूम, मुम्बई) रखी गई है, जबकि टॉप वेरिएंट की कीमत 20.78 लाख रुपए है। कंपनी के मुताबिक इनोवा क्रिस्टा की बुकिंग सोमवार से शुरू हो गई है और 13 मई से गाडी ग्राहकों को को मिलनी शुरू हो जाएगी।

पहले के मुकाबले हल्की है इनोवा क्रिस्टा
कंपनी के मुताबिक पिछले मॉडल की तुलना में नई इनोवा हल्की है। इनोवा क्रिस्टा में 2.4 लीटर व 2.8 लीटर डीजल इंजन दिया गया है। इसमें स्टैंडर्ड 5-स्पीड मैनुअल है और टॉप एंड 2.8 लीटर ट्रेंड लाइंस के साथ ट्रेडिंग इंजन के साथ 6-स्पीड ऑटोमेटिक गियरबॉक्स का विकल्प भी मिलेगा। इस कार के एक्सटीरियर पर नजर डालें तो इसके फ्रंट में नई शार्प बॉडी लाइंस, नया हैडलैंप क्लस्टर और नई 2 स्लेट क्रोम ग्रिल दी गई है। नई इनोवा क्रिस्टा पुरानी इनोवा के मुकाबले ज्यादा चौडी और लम्बी है।

पहले से बेहतर है इंटीरियर
इंटीरियर में इसके केबिन में वुड फिनिश डिजायन, 7-इंच का नेविगेशन सपोर्ट वाला टच स्क्रीन इंफोटेनमेंट सिस्टम, लैदर अपोहस्ट्री, फोल्डेबल सीट बैक टेबल, 8-वे पावर एडजस्ट सीट की सुविधा दी गई है। साथ ही कार की सेकेंड रो में सिल्वर डैश का इस्तेमाल किया गया है। इसके अलावा कार में 20 बॉटल होल्डर दिए गए हैं। थर्ड रो में बैठे लोगों के लिए अलग से एसी वेंट भी लगाए गए हैं।

इस नई इनोवा को कंपनी ने टोयोटा न्यू ग्लोबल आर्किटेक्चर (TNGA) प्लेटफॉर्म पर तैयार किया गया है। कंपनी के मुताबिक पिछले मॉडल की तुलना में नई इनोवा हल्की होने के साथ-साथ 180mm ज्यादा लंबी, 60mm ज्यादा चौड़ी और 45mm ज्यादा ऊंची होगी।

Allahbad अब मुख्तार अंसारी की बेनामी संपत्तियों पर होगी कार्रवाई, मुख्तार के बेटे, पत्नी और रिश्तेदारों की प्रॉपर्टी पुलिस कर चुकी है कुर्क

Allahbad अब मुख्तार अंसारी की बेनामी संपत्तियों पर होगी कार्रवाई, मुख्तार के बेटे, पत्नी और रिश्तेदारों की प्रॉपर्टी पुलिस कर चुकी है कुर्क

उत्तरप्रदेश न्यूज़ डेस्क माफिया मुख्तार अंसारी के खिलाफ कार्रवाई तेज हुई तो उसने अपनी प्रॉपर्टी बेचनी शुरू कर दी. प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) की टीम को जांच के दौरान पता चला है कि कार्रवाई तेज होने के बाद करोड़ों रुपये दूसरों के नाम निवेश करने के साथ ही विकास कंस्ट्रक्शन समेत अन्य कंपनियों से बाहरी लोगों को रुपये दिए गए. इसलिए अब ईडी की नजर उन लोगों पर है, जिनके नाम रुपये निवेश किए गए और जिन्हें रुपये दिए गए. ईडी इसे मुख्तार अंसारी की बेनामी संपत्ति मानते हुए कार्रवाई करने की तैयारी में है.
ईडी की टीम ने जब मुख्तार अंसारी उनकी पत्नी आफ्शां अंसारी साले आतिफ रजा समेत अन्य के खिलाफ मनी लांड्रिंग का केस दर्ज किया था तो खलबली मच गई थी. एक तरफ ईडी तो दूसरी ओर यूपी पुलिस माफिया मुख्तार अंसारी के खिलाफ गैंगस्टर एक्ट में मुकदमा दर्ज कर अवैध संपत्तियां तलाश कर रही थी. गाजीपुर समेत अन्य जिलों में मुख्तार की करोड़ों की प्रॉपर्टी कुर्क कर ली गई. ईडी की जांच के दौरान पता चला कि नामी संपत्तियां कुर्क हो चुकी है. बाहर की संपत्तियां बेची जा चुकी है. ऐसे में ईडी ने इस परिवार के दो दर्जन से अधिक बैंक खातों को खंगाला. पता चला कि करोड़ों रुपये दूसरों को दिए गए हैं. इस बारे में ईडी मुख्तार अंसारी के बेटे अब्बास अंसारी और साले आतिफ रजा से पूछताछ कर रही है लेकिन इनसे ज्यादा सहयोग नहीं मिल सका. इसलिए जिनको रुपये दिए गए, उनको समन देकर ईडी ने बुलाया था. अब ट्रांजेक्शन के आधार पर ईडी की टीम मान रही है कि मुख्तार के गुर्गों के पास जो संपत्तियां हैं, वह मुख्तार की बेनामी संपत्तियां हैं. साक्ष्य एकत्र करके बेनामी संपत्तियों को ईडी अटैच करेगा.
आगाज के मालिक व मुख्तार के ससुर को ईडी ने समन भेजा मामा-भांजे से पूछताछ के बाद मुख्तार के ससुर जमशेद रजा को समन भेजकर ईडी ने बयान के लिए बुलाया है. इससे मुख्तार के परिवार में खलबली है.
पहले अलग-अलग फिर आमने-सामने सवाल

विधायक अब्बास अंसारी और उसके मामा आतिफ रजा से सिविल लाइंस स्थित कार्यालय में सुबह से लेकर रात तक पूछताछ की जा रही है. ईडी की ओर से उनके खानपान का पूरा इंतजाम किया गया है. उनके दिए गए बयान को दर्ज करने के साथ ही रिकार्ड भी किया जाता है. कई सवालों के जवाब पर मामा-भांजे अक्सर फंस जाते हैं. हर बड़े ट्रांजेक्शन पर पहले दोनों से अलग-अलग सवाल होता है, फिर उनका आमना-सामना भी कराया जाता है.
आगाज कंपनी का पार्टनर विदेश भागा
मुख्तार के ससुर की कंपनी आगाज से जुड़े सदस्यों के खिलाफ ईडी ने कार्रवाई शुरू कर दिया है. मुख्तार के ससुर जमशेद रजा के अलावा अन्य सदस्यों को भी बयान के लिए बुलाया जाएगा. ईडी ने इसकी छानबीन की तो पता चला कि एक पार्टनर शादाब विदेश में है. इसकी छानबीन चल रही है. उसको भी बयान के लिए बुलाया जा सकता है. उसके बैंक खाते खंगाले जा रहे हैं.

अनी बुलियन कंपनी ने 100 लोगों से पांच करोड़ रुपये ठगे

Lucknow Bureau

लखनऊ ब्यूरो
Updated Tue, 27 Oct 2020 01:53 AM IST

5 crore fraud with 100 people

गोमतीनगर थाने में अनी बुलियन ट्रेडिंग कंपनी और आई विजन इंडिया क्रेडिट कोऑपरेटिव सोसायटी के संचालकों पर करीब 100 लोगों से पांच करोड़ रुपये हड़पने का आरोप लगाते हुए एफआईआर दर्ज कराई गई हैं। इंस्पेक्टर धीरज कुमार सिंह का कहना है कि सभी मामलों की जांच की जा रही है।
इंस्पेक्टर ने बताया कि बाराबंकी के रामसनेहीघाट स्थित धरौली के सुमेरगंज गांव निवासी सरोजनी कौशल ने कंपनी में प्रति वर्ष 40 प्रतिशत लाभ के लालच में रकम निवेश ट्रेंड लाइंस के साथ ट्रेडिंग की थी। उन्होंने अपने कई करीबियों और रिश्तेदारों के पैसे भी निवेश कराए। बाद में कंपनी ने उन्हें अपना एजेंट बना लिया। सरोजनी ने करीब 100 लोगों के पांच करोड़ रुपये के आसपास कंपनी में निवेश कराए। 2019 में रकम मेच्योर होनी थी लेकिन निवेशकों ने टरका दिया।
निवेशकों में एकता खन्ना, वंदना कौशल, अनुराधा कौशल, सतोष कौशल, आशा देवी, विनीता अग्रवाल, अंबरवती, सनत तिवारी, मनीष कौशल, पल्लवी अग्रवाल, मनोज कुमार गुप्ता शामिल थे। सबकी रकम सितंबर 2019 में मेच्योर होनी थी। निर्धारित अवधि आने पर निवेशकों ने कंपनी संचालकों से संपर्क किया तो ट्रेंड लाइंस के साथ ट्रेडिंग वह बहाने बनाकर टरकाने लगे। सरोजनी ने कंपनी के संचालकों के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई है। इसी तरह बाराबंकी के सत्यप्रेमीनगर निवासी रचना श्रीवास्तव ने कंपनी में 20.96 लाख रुपये, रामेश्वरी श्रीवास्तव ने एक लाख रुपये, नवाबगंज के शिवपुरी की अर्चना श्रीवास्तव ने दो लाख रुपये, सिविल लाइंस के श्रीनगर के कृष्ण कुमार सिंह ने 1.62 लाख रुपये, उनकी पत्नी बीना सिंह ने 50000 रुपये, लखपेड़ाबाग के ललराम चौधरी ने 9.10 लाख रुपये, उसके बेटे रामविलास चौधरी ने 1.40 लाख रुपये कंपनी में निवेश किए थे। कुल रकम 36.58 लाख रुपये थी जिसे कंपनी ने हड़प लिया।
कंपनी संचालकों का कहना था कि सितंबर 2019 में निवेश की अवधि पूरी होने पर वह कंपनी संचालकों से मिले तो उन्होंने हीरा ओर मोबाइल फोन के व्यापार में पूरा रुपया निवेश करने की बात कही। उनका कहना था कि चार महीने में ब्याज समेत पूरी रकम का भुगतान कर दिया जाएगा। चार महीने बीतने पर फरवरी 2020 में सभी फिर संचालकों से मिले तो वह टालमटोल करने लगे। इसके बाद लॉक डाउन लग गया तो संचालकों ने 27 जून तक रकम देने को कहा। निवेशकों का कहना है कि कंपनी के संचालक अजीत गुप्ता, उसकी पत्नी निहारिका सिंह, संतोष गुप्ता, अंजनी कौशल, शिवकुमार गोस्वामी, अजय उपाध्याय ने धर्मेंद्र कौशल, मंजू कौशल, वासुदेव कौशल, आशीष तिवारी, धरनीधर उपाध्याय के साथ मिलकर निवेशकों के रुपये हड़प लिए। ठगों ने खुद के लिए बंगला, कारें व विदेशों में संपत्तियां खरीद ली हैं। अजीत कुमार गुप्ता को पुलिस गिरफ्तार कर जेल भेज चुकी है।

गोमतीनगर थाने में अनी बुलियन ट्रेडिंग कंपनी और आई विजन इंडिया क्रेडिट कोऑपरेटिव सोसायटी के संचालकों पर करीब 100 लोगों से पांच करोड़ रुपये हड़पने का आरोप लगाते हुए एफआईआर दर्ज कराई गई हैं। इंस्पेक्टर धीरज कुमार सिंह का कहना है कि सभी मामलों की जांच की जा रही है।


इंस्पेक्टर ने बताया कि बाराबंकी के रामसनेहीघाट स्थित धरौली के सुमेरगंज गांव निवासी सरोजनी कौशल ने कंपनी ट्रेंड लाइंस के साथ ट्रेडिंग में प्रति वर्ष 40 प्रतिशत लाभ के लालच में रकम निवेश की थी। उन्होंने अपने कई करीबियों और रिश्तेदारों के पैसे भी निवेश कराए। बाद में कंपनी ने उन्हें अपना एजेंट बना लिया। सरोजनी ने करीब 100 लोगों के पांच करोड़ रुपये के आसपास कंपनी में निवेश कराए। 2019 में रकम मेच्योर होनी थी लेकिन निवेशकों ने टरका दिया।


निवेशकों में एकता खन्ना, वंदना कौशल, अनुराधा कौशल, सतोष कौशल, आशा देवी, विनीता अग्रवाल, अंबरवती, सनत तिवारी, मनीष कौशल, पल्लवी अग्रवाल, मनोज कुमार गुप्ता शामिल थे। सबकी रकम सितंबर 2019 में मेच्योर होनी थी। निर्धारित अवधि आने पर निवेशकों ने कंपनी संचालकों से संपर्क किया तो वह बहाने बनाकर टरकाने लगे। सरोजनी ने कंपनी के संचालकों के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई है। इसी तरह बाराबंकी के सत्यप्रेमीनगर निवासी रचना श्रीवास्तव ने कंपनी में 20.96 लाख रुपये, रामेश्वरी श्रीवास्तव ने एक लाख रुपये, नवाबगंज के शिवपुरी की अर्चना श्रीवास्तव ने दो लाख रुपये, सिविल लाइंस के श्रीनगर के कृष्ण कुमार सिंह ने 1.62 लाख रुपये, उनकी पत्नी बीना सिंह ने 50000 रुपये, लखपेड़ाबाग के ललराम चौधरी ने 9.10 लाख रुपये, उसके बेटे रामविलास चौधरी ने 1.40 लाख रुपये कंपनी में निवेश किए थे। कुल रकम 36.58 लाख रुपये थी जिसे कंपनी ने हड़प लिया।
कंपनी संचालकों का कहना था कि सितंबर 2019 में निवेश की अवधि पूरी होने पर वह कंपनी संचालकों से मिले तो उन्होंने हीरा ओर मोबाइल फोन के व्यापार में पूरा रुपया निवेश करने की बात कही। उनका कहना था कि चार महीने में ब्याज समेत पूरी रकम का भुगतान कर दिया जाएगा। चार महीने बीतने पर ट्रेंड लाइंस के साथ ट्रेडिंग फरवरी 2020 में सभी फिर संचालकों से मिले तो वह टालमटोल करने लगे। इसके बाद लॉक डाउन लग गया तो संचालकों ने 27 जून तक रकम देने को कहा। निवेशकों का कहना है कि कंपनी के संचालक अजीत गुप्ता, उसकी पत्नी निहारिका सिंह, संतोष गुप्ता, अंजनी कौशल, शिवकुमार गोस्वामी, अजय उपाध्याय ने धर्मेंद्र कौशल, मंजू कौशल, वासुदेव कौशल, आशीष तिवारी, धरनीधर उपाध्याय के साथ मिलकर निवेशकों के रुपये हड़प लिए। ठगों ने खुद के लिए बंगला, कारें व विदेशों में संपत्तियां खरीद ली हैं। अजीत कुमार गुप्ता को पुलिस गिरफ्तार कर जेल भेज चुकी है।

रेटिंग: 4.77
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 75
उत्तर छोड़ दें

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा| अपेक्षित स्थानों को रेखांकित कर दिया गया है *