महत्वपूर्ण लेख

बिटकॉइन किस देश की करेंसी है?

बिटकॉइन किस देश की करेंसी है?
एलन मस्‍क ने अपनी ट्वि‍टर प्राेेफाइल पिक चेंज होने के बाद डोगेक्‍वाइन की कीमत में 10 फीसदी का इजाफा देखने को मिल रहा है। ( Source : Elon Musk Twitter Handle )

El Salvador ने दी Bitcoin को मान्यता, बना दुनिया का पहला देश, लेन-देन में कर सकेंगे इस्तेमाल

Digital Currency in India: डिजिटल मुद्रा जल्द होगी लॉन्च, बिटकॉइन से अलग कैसे?

नई दिल्ली। भारतीय रिजर्व बैंक ( rbi ) ने चरणबद्ध तरीके से भारत में डिजिटल करेंसी जल्द लॉन्चिंग की तैयारी तेज कर दी है। आरबीआई की 2021 के अंत तक खुद की केंद्रीय बैंक डिजिटल मुद्रा ( Central Bank Digital Currency ) शुरू करने की योजना है। सीबीडीसी ( CBDC ) की शुरुआत भारत के लिए ऐतिहासिक साबित होने की संभावना है। इसे परंपरागत बैंकिंग सिस्टम से अलग आरबीआई की एक नई पहल के तौर पर लिया जा रहा है। खास बात यह है कि भारत में डिजिटल करेंसी शासकीय निकाय का हिस्सा होगा।

Reserve Bank of India

आरबीआई गवर्नर शक्तिकांत दास ने सीएनबीसी को एक साक्षात्कार के दौरान बताया कि भारतीय रिजर्व बैंक दिसंबर तक अपना पहला डिजिटल मुद्रा ट्रेल कार्यक्रम ( trail programmes ) शुरू कर सकता है। डिजिटल करेंसी की लॉन्चिंग को लेकर हम अभी से बेहद सावधान हैं। यह न केवल हमारे लिए बल्कि पूरी दुनिया के लिए एक नया उत्पाद है।

TDS: इस बार आपका टीडीएस ज्यादा कटेगा या नहीं, ऐसे चेक करें लिस्ट में अपना नाम

सीबीडीसी क्रिप्टोकरेंसी से अलग कैसे?

क्रिप्टोकरेंसी ( Cryptocurrency ) को एक करेंसी की बजाय एक वस्तु के रूप में ज्यादा आंका जाता है। ऐसा इसलिए कि किसी को बिटकॉइन में निवेश करने के लिए बिटकॉइन किस देश की करेंसी है? पहले मुद्रा खरीदना होता है। क्रिप्टोकरेंसी बेहद अस्थायी करेंसी है। फिर क्रिप्टोकरेंसी का कोई कानूनी जारीकर्ता नहीं है। जबकि केंद्रीय बैंक डिजिटल मुद्रा यानि सीबीडीसी ( CBDC ) को आरबीआई जारी करेगा। इसलिए केंद्रीय बैंक की डिजिटल मुद्रा को रियल करेंसी के तौर पर देखा जाएगा।

Tesla: इंडिया की सड़कों पर दौड़ेंगी टेस्ला की कारें, टेस्टिंग एजेंसियों ने दी 4 मॉडल को मंजूरी

सेंट्रल बैंक डिजिटल करेंसी क्या है?

केंद्रीय बैंक डिजिटल मुद्रा मूल रूप से एक डिजिटल या आभासी मुद्रा है जो आरबीआई द्वारा निविदा के रूप में जारी की जाती है। यह मौजूदा डिजिटल या फिएट करेंसी के समान हैं। खास बात ह है कि यह एक कानूनी रूप से मान्यता प्राप्त मुद्रा है जिसे वित्तीय निकायों का समर्थन हासिल है।

इस लिस्‍ट में है एलन मस्‍क की फेवरेट क्रिप्‍टोकरेंसी का नाम, जिनके दाम हैं 100 रुपए से कम

इस लिस्‍ट में है एलन मस्‍क की फेवरेट क्रिप्‍टोकरेंसी का नाम, जिनके दाम हैं 100 रुपए से कम

एलन मस्‍क ने अपनी ट्वि‍टर प्राेेफाइल पिक चेंज होने के बाद डोगेक्‍वाइन की कीमत में 10 फीसदी का इजाफा देखने को मिल रहा है। ( Source : Elon Musk Twitter Handle )

स्‍टॉक, गोल्‍ड के साथ-साथ अब भारतीय निवेशकों का ध्‍यान अब वर्चुअल करेंसी की ओर भी है। भारतीयों की सबसे पसंदीदा करेंसी ब‍िटकॉइन है। जिसकी कीमत आसमान पर है। खास बात ये है कि आप बिटकॉइन या दूसरी महंगे कॉइन में कितना ही निवेश कर सकते हैं। यह जरूरी नहीं कि एक कॉइन के बराबर ही आपको निवेश करना है। वैसे आज देश और दुनिया में कई वर्चुअल करेंसी सामने आ चुकी हैं। कुछ तो ऐसी हैं जि‍नके दाम भारतीय रुपए के मुकाबले 100 रुपए से कम है।

El Salvador ने दी Bitcoin को मान्यता, बना दुनिया का पहला देश, लेन-देन में कर सकेंगे इस्तेमाल

alt

5

alt

5

alt

5

alt

Bitcoin को मिली कानूनी मान्यता

अल-सल्वाडोर की संसद में बिटकॉइन को 62 की तुलना में 84 वोटों से मंजूरी दे दी गई. राष्ट्रपति नायिब बुकेले ने ट्वीट कर इसकी जानकारी दी. संसद में वोटिंग से ठीक पहले बुकेले ने इस कदम के बारे में ट्वीट किया कि यह कदम हमारे देश के लिए वित्तीय समावेशन, निवेश, टूरिज्म, इनोवेशन और आर्थिक विकास लेकर आएगा. बुकेले ने बिटकॉइन कानून के पास होने को ऐतिहासिक भी बताया. इस ऐलान के बाद Bitcoin की कीमत 33,98 डॉलर से बढ़ कर 34,398 डॉलर पर पहुंच गई. इस कानून को पूरी तरह अमल में आने में करीब 90 दिनों का समय लगेगा जिसके बाद बिटकॉइन का इस्तेमाल लेनदेन के लिए किया जा सकेगा.

Bitcoin का इस्तेमाल वैकल्पिक होगा

बुकेले ने यह स्पष्ट किया कि बिटकॉइन का बिटकॉइन किस देश की करेंसी है? इस्तेमाल लोगों के लिए पूरी तरह से वैकल्पिक होगा. साथ ही पहले की तरह ही US डॉलर का भी देश में इस्तेमाल जारी रहेगा. राष्ट्रपति बुकेले ने कहा कि देश की कानूनी मुद्रा बन जाने के बाद इस पर कोई कैपिटल गेन्स टैक्स नहीं लगाया जाएगा. देश में क्रिप्टो एंटरप्रेन्योर को तुरंत स्थायी तौर पर रहने की अनुमति दी जाएगी.

Bitcoin kis desh ki currency hai – बिटकॉइन (Bitcoin) किस देश की करेंसी है.

दोस्तो आज हम जानने वाले हैं bitcoin kis desh ki currency hai. तो आईए जानते हैं.

दोस्तो हाली के कुछ सालो में bitcoin currency काफी चर्चा में आई है. और आज के समय में कई सारे लोग bitcoin में निवेश कर रहे हैं.

लेकिन क्या आपको ये पता है की Bitcoin का मालिक कोन है. और बिटकॉइन (Bitcoin) किस देश की करेंसी है.

जानने के लिए आख़िर तक पढ़िए. क्यू की आज में आपको बिटकॉइन के बारेमे सारी जानकारी बताना वाला हूं.

bitcoin kis desh ki currency hai?

दोस्तों बिटकॉइन किसने बनाया? क्यों बनाया और कैसे बनाया यह तो किसी को नहीं पता है. और यह किस देश की करेंसी है यह भी नहीं कहा जा सकता.

Bitcoin kis desh ki currency hai

लेकिन एक देश है जीस देश ने Bitcoin को अपनी official currency मानी है. उस देश का नाम liberland है.

कही सारे येसे भी देश है जहा पर Bitcoin Banned है. और कही सारे देशों में इसे मान्यता मिली है.

Bitcoin ka बिटकॉइन किस देश की करेंसी है? malik kon hai (bitcoin founder)

ऐसा कहा ज्याता हैं कि Satoshi Nakamoto ने bitcoin का निर्माण किया.

लेकिन अभितक किसी को नही पता की यह. Satoshi Nakamoto कहा रहता है और वे दिखता कैसा है.

कही सारे लोगो का ऐसा कहना है की ये जो नाम है Satoshi Nakamoto यह बड़ी बड़ी कंपनी ने मिलकर बनाया है

जैसे की (sa से Samsung) (to से toshiba) (Naka से Nakamichi) और (Moto से Motorola)

इन सभी बड़ी बड़ी कंपनियो ने मिलकर Bitcoin का निर्माण किया है. ऐसा कही सारे लोगो का दावा है. लेकिन इसकी सच्चाई कोई नही जानता.

इसे भी पढ़े
Morse code kya hai
pyarikhabar.com
What is haarp technology in Hindi

बिटकॉइन कैसे काम करता है

दोस्तो bitcoin एक Digital currency है. जिसे बिटकॉइन किस देश की करेंसी है? हम छू नही सकते. क्यू की यह electric from में होती है.

जिस वजह से इस Bitcoin का लेने देन online तरीके से होता है.

और दोस्तो bitcoin ek decentralised currency है. मतलब की इसे कोई भी Bank या government कंट्रोल नही कर सकती.

दोस्तो bitcoin बिलकुल internet जैसा है मतलब की इंटरनेट का कोई भी मालिक नहीं है वैसे ही बिटकॉइन का कोई भी मालिक नहीं है.

bitcoin blockchain concept पर काम करता है. मतलब की जब हम बैंक में पैसे जमा करते हैं या निकालते है तो उसका हिसाब किताब आपके खाते में जमा होता है.

और bitcoin का सारा हिसाब किताब public Account में जमा होते हैं. उसे ही blockchain कहा जाता है. और ये सबसे secured तरीका है.

रेटिंग: 4.52
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 661
उत्तर छोड़ दें

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा| अपेक्षित स्थानों को रेखांकित कर दिया गया है *